Blogger vs WordPress में क्या अंतर है in Hindi

Rate this post

Blogger vs WordPress in hindi यह दो ऐसे platform हैं जिन पर वेबसाइट बनाना बहुत ही आसान है वैसे तो और भी बहुत से platform हैं जिन पर आप अपनी वेबसाइट को बना सकते हैं लेकिन blogger और wordpress दो ऐसे प्लेटफार्म हैं जिन पर सबसे अधिक वेबसाइट बनाई जाती हैं।

अगर आप एक beginner हैं और नया blog बनाने के बारे में सोच रहे हैं तो आप इस चीज को लेकर बहुत ही confuse होते हैं कि हम अपना ब्लॉग blogger या wordpress दोनों में से किस प्लेटफार्म पर बनाएं ताकि हम आसानी से blog manage कर सकें।

आप अगर अभी blogging करना सीख रहे हैं तो यह दोनों ही प्लेटफार्म blogger अथवा wordpress बहुत ही आसान है और आप अपनी वेबसाइट यहां पर आसानी से design कर सकते हैं और अपनी नई वेबसाइट बनाकर उसे पब्लिश कर सकते हैं।

लेकिन अगर आपको फिर भी इन प्लेटफार्म में से किसी एक को चुनने में परेशानी हो रही है तो आज का लेख आपके लिए है क्योंकि आज के लेख में हम आपको बताने वाले हैं कि ब्लॉगर और वर्डप्रेस में क्या अंतर है।

Table of Contents

Blogging के लिए platform चुनने से पहले किन बातों का ध्यान रखें? ( Blogger vs WordPress )

  • सबसे पहले आपको इस बात का ध्यान रखना है कि blogging platform चुनते समय ऐसा प्लेटफॉर्म चुने जहां पर आप वेबसाइट को आसानी से डिजाइन कर सकें और जिस ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म में आपको अधिक resources मिले उस प्लेटफार्म को ही आप अपना नया ब्लॉग बनाने के लिए चुने।
  • हमेशा ऐसा प्लेटफॉर्म चुने जहां पर आपको अधिक features मिले ताकि आपका ब्लॉग grow कर सके।
  • अगर आप एक new blog बनाना शुरू कर रहे हैं तो आपको blog बनाते वक्त बहुत सी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है जैसे ब्लॉक को डिजाइन करते टाइम कोई दिक्कत आ सकती है तो आप हमेशा ऐसा प्लेटफॉर्म चुने ताकि अगर आपको कोई परेशानी आए तो आपको support मिल सके और आपकी परेशानी हल हो सके।
  • जहां पर आप अपने ब्लॉग का SEO अच्छे से कर पाए उसी प्लेटफार्म को आप चुने ताकि आप अपने ब्लॉग पर अधिक ट्रैफिक प्राप्त कर पाए।

ऐसे और भी बहुत से पॉइंट है जिनको आपको ध्यान में रखकर अपने ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म को चुनना है लेकिन हमने आपको यहां पर कुछ main point बताएं हैं।

Also Read:-

Blogger क्या है? ( what is blogger in hindi)

Blogger को blogspot भी बोला जाता है क्योंकि इसका पुराना नाम blogspot था ब्लॉगर पर आप अपना ब्लॉग बिल्कुल आसानी से बना सकते हैं यहां पर blog बनाने के लिए आपको गूगल पर अपनी आईडी बनानी होती है और उस आईडी से आपको blogger में signup करना होता है।

ब्लॉगर गूगल की ही एक सर्विस है जिस पर आप अपना ब्लॉग बिल्कुल free में बना सकते हैं यहां पर आपको domain name और hosting लेने की आवश्यकता नहीं होती ब्लॉगर से ही आपको डोमेन मिल जाता है जो कि lifetime के लिए बिल्कुल free होता है लेकिन अगर आप कोई भी custom domain का इस्तेमाल करना चाहे तो आप कस्टम डोमेन को भी blogger के साथ setup करके इस्तेमाल कर सकते हैं।

WordPress क्या है? ( what is WordPress in Hindi)

WordPress को 2003 में लांच किया गया था जिस कारण वेबसाइट बनाना बहुत ही आसान हो गया और आज के टाइम में वर्डप्रेस पर 35 परसेंट वेबसाइट बनाई जाती है यह एक open source Software है जिसका इस्तेमाल आप बिल्कुल फ्री में कर सकते हैं।

Blogger के मुकाबले wordpress पर वेबसाइट बनाना थोड़ा मुश्किल है क्योंकि वर्डप्रेस पर आपको वेबसाइट को कॉन्फ़िगर करने के लिए बहुत से plugin का इस्तेमाल करना पड़ता है।

WordPress पर वेबसाइट बनाने के लिए आपको domain name और hosting को buy करना पड़ता है जबकि ब्लॉगर में ऐसा नहीं है blogger में आपका सभी सर्विस फ्री में मिल जाती हैं।

Blogger vs WordPress मे क्या अंतर है?

वैसे तो ब्लॉगर और वर्डप्रेस में बहुत से अंतर हैं लेकिन हम आपको यहां पर उन अंतर के बारे में बताने जा रहे हैं जिनकी मदद से आप यह जान सकेंगे कि आपको ब्लॉगिंग करने के लिए एक अच्छा प्लेटफार्म चुन पाएं जो आपके लिए लाभकारी हो।

Ownership Blogger vs WordPress in Hindi (स्वामित्व ब्लॉगर बनाम वर्डप्रेस)

Blogger: ब्लॉगर गूगल द्वारा दी जा रही एक service है जिसका इस्तेमाल करके हम अपना ब्लॉग बना सकते हैं लेकिन आप किसी भी तरह से इसके server को access नहीं कर सकते।

ब्लॉगर पर ब्लॉग बनाने के लिए आपको गूगल में अकाउंट बनाना पड़ता है और उस अकाउंट के द्वारा blogger.com में साइन इन करना होता है इसके बाद ही आप अपना ब्लॉग create कर सकते हो।

ब्लॉगर blog पर आपका कोई भी नियंत्रण नहीं होता क्योंकि यह गूगल के server पर host होता है गूगल जब चाहे आपके ब्लॉग को डिलीट कर सकता है इसके लिए आप किसी से कोई भी शिकायत नहीं कर सकते और ना ही किसी तरह का कोई क्लेम कर सकते हो।

WordPress: वर्डप्रेस एक ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर है जिसका उपयोग कोई भी आसानी से कर सकता है लेकिन इस सॉफ्टवेयर को इंस्टॉल करने के लिए आपको hosting की आवश्यकता पड़ती है जिसे आपको hosting provider से खरीदना पड़ता है यहां पर आप अपनी वेबसाइट के खुद मालिक होते हैं आप जब चाहे अपनी website को एक होस्टिंग प्रोवाइडर से दूसरे hosting provider के पास transfer कर सकते है जो कि हम blogger में नहीं कर पाते।

Blogger vs WordPress यहां पर इन दोनों में से winner कौन है?

यहां पर हम वर्डप्रेस को विनर मानते हैं क्योंकि आप जब चाहे अपने ब्लॉग को transfer कर सकते हैं और यह self host होता है।

Design Blogger vs WordPress in Hindi (डिज़ाइन ब्लॉगर बनाम वर्डप्रेस)

Blogger: यहां पर हम बात करने वाले हैं वेबसाइट को डिजाइन करने की वैसे तो ब्लॉगर में आपको बहुत से templates मिल जाते हैं जिनका इस्तेमाल करके आप अपनी वेबसाइट बना सकते हैं लेकिन एक beginner के  लिए template को customize करना बहुत ही मुश्किल होता है क्योंकि यहां पर हर काम coding के द्वारा किया जाता है।

वैसे तो बहुत से ऐसे premium templates भी avaliable हैं जिनका आप इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन उन्हें भी कस्टमाइज तो करना ही पड़ता है अगर आप अपनी वेबसाइट को अच्छे से कस्टमाइज नहीं कर पाते तो आपके यूजर को आपकी वेबसाइट का डिजाइन पसंद नहीं आता जिस कारण वह आपकी वेबसाइट पर दोबारा विजिट नहीं करता।

WordPress:  वर्डप्रेस पर आपको बहुत से themes मिल जाते हैं जिन्हें कस्टमाइज करना बहुत ही आसान होता है एक beginner इसे आसानी से कस्टमाइज कर सकता है क्योंकि इन्हें customize करने के लिए coding की आवश्यकता नहीं होती आप कुछ plugins का इस्तेमाल  करके अपनी वेबसाइट को कस्टमाइज कर सकते हैं

ऐसे बहुत से plugin wordpress पर avaliable है  जिनका आप इस्तेमाल करके फ्री में अपनी वेबसाइट को कस्टमाइज कर सकते हो जो बहुत ही आसान है।

Blogger vs WordPress यहां पर इन दोनों में से winner कौन है?

यहां पर हम वर्डप्रेस को विनर घोषित करते हैं क्योंकि वर्डप्रेस में कस्टमाइज करना या यूं कहें कि अपनी वेबसाइट को डिजाइन करना बहुत ही आसान है।

Security WordPress vs Blogger in Hindi (सुरक्षा वर्डप्रेस बनाम ब्लॉगर)

WordPress: वर्डप्रेस वैसे तो बहुत ही secure है लेकिन वर्डप्रेस में वेबसाइट की security को बनाए रखने के लिए आपको बहुत से security plugins का इस्तेमाल करना पड़ता है और बहुत से सिक्योरिटी प्लगइन ऐसे हैं जिन्हें आपको अपनी वेबसाइट की सिक्योरिटी बनाए रखने के लिए खरीदना पड़ता है।

Blogger: ब्लॉगर में आपको सिक्योरिटी की कोई चिंता नहीं होती क्योंकि यहां पर आपकी वेबसाइट गूगल के सर्वर पर host होती है जिस कारण सिक्योरिटी का सारा काम गूगल द्वारा किया जाता है और आप तो जानते ही हैं कि गूगल security के मामले में सबसे बेस्ट है।

यहां पर इन दोनों में से winner कौन है?

यहां पर विनर ब्लॉगर है।

Resources Blogger vs WordPress in Hindi (संसाधन ब्लॉगर बनाम वर्डप्रेस)

WordPress: अगर resources की बात करें तो यह wordpress के हाथ में नहीं होता क्योंकि वर्डप्रेस तो एक सॉफ्टवेयर है जिस तरह का आप hosting plan buy करते हैं उसी तरह के आपको रिसोर्सेज इस्तेमाल करने को मिलते हैं जैसे ram, disk space, bandwidth, visitor limitation इत्यादि।

उदाहरण के लिए अगर आपने एक limitated resources वाला प्लान बाय किया हुआ है जिसमें आपको वेबसाइट visitor की लिमिट 10,000 मिली हुई है लेकिन आप की वेबसाइट पर 15000 विजिटर विजिट कर लेते हैं तो आपकी वेबसाइट क्रैश हो जाएगी।

Blogger: ब्लॉगर में आपकी वेबसाइट को गूगल द्वारा मैनेज किया जाता है तो यहां पर आपको resources की चिंता करने की आवश्यकता नहीं होती क्योंकि यहां पर आपको अनलिमिटेड रिसोर्सेज मिलते हैं आपकी वेबसाइट पर जितनी भी ट्रैफिक आ जाए उसे गूगल का server आसानी से handel कर लेता है आपकी वेबसाइट के क्रैश होने का खतरा नहीं होता।

Blogger vs WordPress यहां पर इन दोनों में से winner कौन है?

यहां पर विनर ब्लॉगर है क्योंकि ब्लॉक में unlimited resources इस्तेमाल करने के लिए मिलते हैं।

Features Blogger vs WordPress in Hindi (विशेषताएं ब्लॉगर बनाम वर्डप्रेस)

Blogger: इसमें आपको बहुत ही आसान सा interface देखने को मिलता है जिसे कोई भी बिगनर आसानी से समझ सकता है लेकिन यहां पर जो features आपको blogger द्वारा  प्रदान किए जाते हैं आप उन्हीं का इस्तेमाल कर पाते हैं  ब्लॉगर में आप कोई भी एक्स्ट्रा पिक्चर अगर ऐड करना चाहे तो वह नहीं कर सकते।

WordPress: ब्लॉगर के मुकाबले वर्डप्रेस में आपको बाय डिफॉल्ट ही बहुत अधिक पिक्चर मिल जाते हैं लेकिन अगर आप और अधिक features का इस्तेमाल करना चाहे तो आप plugin की मदद से उन फीचर का इस्तेमाल कर सकते हैं या अपने hosting अकाउंट में लॉगिन करके भी बहुत से फीचर का इस्तेमाल कर सकते हैं।

Blogger vs WordPress यहां पर इन दोनों में से winner कौन है?

यहां पर विनर वर्डप्रेस है क्योंकि वर्डप्रेस में आप जितने features चाहे उन्हें ऐड कर सकते हैं।

Updates Blogger vs WordPress in Hindi (अपडेट ब्लॉगर बनाम वर्डप्रेस)

Blogger: अपडेट के मुकाबले में ब्लॉगर बहुत ही पीछे हैं क्योंकि ब्लॉगर को गूगल द्वारा बहुत ही कम अपडेट किया जाता है इसे साल भर में केवल एक या दो बार ही अपडेट किया जाता है  लेकिन यह फिर भी  नए ब्लॉगर के लिए बहुत अच्छा प्लेटफार्म है।

WordPress: वर्डप्रेस एक ओपन शॉट सॉफ्टवेयर है जिस कारण इसे रेगुलर update मिलता रहता है इसके साल भर में ही बहुत से अपडेट आ जाते हैं।

SEO Blogger vs WordPress in Hindi (एसईओ ब्लॉगर बनाम वर्डप्रेस)

Blogger: SEO (search engine optimization) के मामले में गूगल ने ब्लॉगर में बहुत ही फीचर दिए हैं लेकिन यह feature वर्डप्रेस के मुकाबले बहुत ही कम है क्योंकि जिस तरह से आप  अपने ब्लॉग का SEO वर्डप्रेस में कर पाते हैं उस तरह से आप ब्लॉगर में नहीं कर पाते।

WordPress: वर्डप्रेस में आपको बहुत से ऐसे प्लगइन मिल जाते हैं जिनका इस्तेमाल करके आप अपने blog का SEO अच्छे से कर सकते हैं ताकि आपकी वेबसाइट सर्च इंजन में रैंक कर पाए SEO के मामले में वर्डप्रेस प्लेटफार्म blogspot से बहुत ही अच्छा है।

Price Blogger vs WordPress in Hindi (मूल्य ब्लॉगर बनाम वर्डप्रेस)

Blogger: ब्लॉगर पर आपकी वेबसाइट फ्री में बन जाती है क्योंकि यह एक free platform है यहां पर आपको domain या hosting खरीदने की आवश्यकता नहीं होती यह सब आपको फ्री में ब्लॉगर द्वारा मिल जाता है।

WordPress: वर्डप्रेस भी बिल्कुल फ्री है लेकिन इस पर वेबसाइट बनाने के लिए आपको domain और hosting खरीदने पड़ते हैं जिसके लिए आपको पैसा खर्च करना पड़ता है जो एक beginner के लिए आसान नहीं है।

Backup Blogger vs WordPress in Hindi (बैकअप ब्लॉगर बनाम वर्डप्रेस)

Blogger: ब्लॉगर में अगर आप चाहें backup लेना तो आपको मैनुअली लेना पड़ता है इसमें कोई भी ऐसा ऑप्शन नहीं है जिससे आपके ब्लॉक का automatically backup लिया जा सके अगर आपकी कोई भी फाइल डिलीट हो जाती है तो backup ना होने के कारण आप उसे रिकवर नहीं कर पाते।

WordPress: वर्डप्रेस बैकअप के मामले में blogspot से कहीं अच्छा है क्योंकि यहां पर बैकअप लेने के लिए आपको होस्टिंग प्रोवाइडर भी ऑप्शन प्रदान करता है जिसे आप अपने ब्लॉक का automatically back setup करके हर रोज बैकअप ले सकते हैं ऑटोमेटिक बैकअप आपको एक बार setup करना होता है उसके बाद आपकी होस्टिंग ऑटोमेटिक हर रोज आपके blog का backup लेती रहती है।

अगर आप चाहे तो वर्डप्रेस में ऐसे बहुत से प्लगइन है जिनका आप इस्तेमाल करके daily अपने ब्लॉक का ऑटोमेटिक backup ले सकते हैं और यह बैकअप आपके होस्टिंग में सेव होने के साथ-साथ आप कहीं और भी सेव कर सकते हैं जैसे google drive मे।

वर्डप्रेस में अगर आपकी कोई फाइल मिस हो जाती है या डिलीट हो जाती है तो आप बैकअप के थ्रू उसे आसानी से restore कर सकते हैं।

निष्कर्ष: Blogger vs WordPress मे better कौन है?

Blogger: अगर आप एक beginner है और ब्लॉग या वेबसाइट बनाना सीख रहे हैं तो आपके लिए blogger एक best option है क्योंकि यहां पर आपको कोई भी पैसा खर्च नहीं करना पड़ता और फ्री में बहुत से रिसोर्सेज इस्तेमाल करने को मिल जाते हैं और यहां पर आपको सिंपल इंटरफेस मिलता है जिसे आप आसानी से इस्तेमाल करके अपना नया ब्लॉग शुरू कर सकते हैं और अगर आपका blog successful हो जाता है और आप चाहते हैं कि आप वर्डप्रेस शिफ्ट कर जाएं तो आप blogger से wordpress पर आसानी से शिफ्ट कर सकते हैं।

WordPress: वर्डप्रेस में आपको ब्लॉगर से कहीं अधिक फीचर मिलते हैं और इसे इस्तेमाल करना भी आसान है लेकिन एक beginner के लिए इसे इस्तेमाल करना ब्लॉगर जितना आसान नहीं है  क्योंकि इसे इस्तेमाल करने के लिए बहुत से प्लगइन की सहायता लेनी पड़ती है और एक बिगनर को प्लगिंस के बारे में अधिक जानकारी नहीं होती कि वह प्लगइन को इंस्टॉल करके configure कर पाए।

लेकिन अगर आपको वर्डप्रेस कि अच्छे से नॉलेज है तो आप अपनी वेबसाइट हमेशा वर्डप्रेस पर ही बनाएं क्योंकि वर्डप्रेस पर आप अधिक फीचर का इस्तेमाल कर सकते हैं।

FAQ – Blogger vs WordPress

क्या वेबसाइट ब्लॉगर से वर्डप्रेस पर ट्रांसफर की जा सकती है?

जी हां, आप कुछ  प्लगइन की सहायता से ब्लॉगर पर बनी वेबसाइट को वर्डप्रेस पर आसानी से ट्रांसफर कर सकते हैं जो की बहुत ही आसान कार्य है अधिक जानकारी के लिए आप यूट्यूब पर वीडियो देख सकते हैं।

ब्लॉगर कितनी ट्रैफिक को हैंडल कर पाता है?

अगर आप ब्लॉगर में वेबसाइट बनाते हैं तो वह गूगल के सर्वर पर host होती है जितनी भी अधिक ट्रैफिक आपकी वेबसाइट पर आ जाए उसे गूगल का सरवर आसानी से हैंडल कर लेता है।

वर्डप्रेस कितनी ट्रैफिक हैंडल कर पाता है?

यहां पर हम आपको बता देना चाहते हैं कि अगर आप की वेबसाइट वर्डप्रेस पर बनी हुई है तो आपकी वेबसाइट की ट्रैफिक को हैंडल करने का कार्य वर्डप्रेस का नहीं होता यह आपके hosting के plan पर निर्भर करता है कि आपने कौन सा प्लान लिया हुआ है और वह कितनी ट्रैफिक हैंडल कर पाता है।

इस लेख में हमने आपको blogger vs wordpress in hindi में अंतर के बारे में बताया है मैं आशा करता हूं कि आपको अच्छे से समझ आ गया होगा कि Blogger vs WordPress में क्या अंतर है और आपको ब्लॉगिंग करने के लिए कौन से प्लेटफार्म का चुनाव करना है।

लेकिन अगर आपके मन में फिर भी कोई सवाल है तो आप बेझिझक हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं हम आपकी मदद करने की पूरी कोशिश करेंगे  और अगर आपको हमारा यह  लेख पसंद आया हो तो कृपया इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें।

Kuljinder Singh जो कि इस website का owner है haryana में एक छोटे से विलेज gledwa से है जो kurukshetra का पास पड़ता है। लाइफ मे कुछ कर गुजरने कि चाहत लेकर 2020 मे reliance jio कि job छोड़कर Blogging को ही अपना carrier बनाया।  Read More Click Here

Leave a Comment

error: Alert: Content is protected !!
Copy link
Powered by Social Snap